इनोवेशन के जरिए कृषि, महिला सुरक्षा, प्रदूषण, स्वास्थ्य जैसी विकट समस्याओं को सुलझाएंगे छात्र - bhaskarhindi.com - Today Quizzes

इनोवेशन के जरिए कृषि, महिला सुरक्षा, प्रदूषण, स्वास्थ्य जैसी विकट समस्याओं को सुलझाएंगे छात्र – bhaskarhindi.com



डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। शिक्षा तक सीमित पहुंच, कृषि अक्षमता, महिला सुरक्षा, अत्यधिक प्रदूषण, स्वास्थ्य सेवाओं की कमी, और सीमित कृषि शिक्षा जैसी विकट समस्याओं को सुलझाने का एक प्रयास देश के छात्रों द्वारा भी किया जाएगा। छात्र इनोवेशन के माध्यम से इन समस्याओं का समाधान ढूंढेंगे। इसमें खास तौर पर कॉलेज के युवा छात्र आगे आ रहें हैं। छात्रों ने इनोवेशन के लिए ऐसी समस्याओं की पहचान की जिनका सामना देश क्या अलग-अलग राज्यों में लोग कर रहे हैं।

दिल्ली सरकार की स्किल एंड एंटरप्रेन्योरशिप यूनिवर्सिटी में सैमसंग इंडिया की मदद से इन समस्याओं से जुड़े एजुकेशन एंड इनोवेशन रोड शो भी किया गया है। दिल्ली के इन छात्रों ने कहा कि दुनिया की वास्तविक समस्याओं जैसे शिक्षा तक सीमित पहुंच, कृषि अक्षमता, महिला सुरक्षा, अत्यधिक प्रदूषण, स्वास्थ्य सेवाओं की कमी, और सीमित कृषि शिक्षा को खत्म करना चाहते हैं।

छात्रों ने कहा कि उन्हें सैमसंग के सॉल्व फॉर टुमारो एजुकेशन और इनोवेशन प्रतियोगिता जैसे प्लेटफॉर्म की जरूरत है, जो उनके आइडिया को एक्शन में बदलने और लोगों के जीवन को बदलने में मदद कर सके। सैमसंग के ग्लोबल सीएसआर प्रोग्राम सॉल्व फॉर टुमारो के बारे में बात करने के लिए आयोजित किए गए इस कार्यक्रम में 150 से अधिक छात्रों ने भाग लिया, जिन्होंने मुद्दों पर चर्चा की और उनके संबंधित समाधान भी प्रस्तुत किए।

सॉल्व फॉर टुमारो के पहले संस्करण के लिए भारत से 16 से 22 साल के युवाओं से शिक्षा, पर्यावरण, स्वास्थ्य देखभाल और कृषि क्षेत्र के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। युवा इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए 31 जुलाई, 2022 की शाम 5 बजे तक अपने आइडिया भेज सकते हैं।

भारत में सॉल्व फॉर टुमॉरो का पहला भारतीय संस्करण लॉन्च किया, जो युवाओं पर केन्द्रित राष्ट्रीय शिक्षा और इनोवेशन प्रतियोगिता है। इसमें भारत के ऐसे नवीन विचारों वाले प्रतिभाशाली युवाओं को आमंत्रित किया जा रहा है, जो लोगों और समुदायों के जीवन में बदलाव ला सकते हैं। इस मुहिम में आईआईटी दिल्ली भी शामिल है। आईआईटी दिल्ली के विशेषज्ञ के मार्गदर्शन में अपने विचारों को अगले स्तर तक ले जाने के लिए छह महीने का मेंटरिंग सपोर्ट और 1 करोड़ रुपये तक का मेगा सपोर्ट प्राप्त करने का अवसर मिलेगा।

नवीन विचारों को बढ़ावा देने के लिए आईआईटी दिल्ली के फाउंडेशन फॉर इनोवेशन एंड टेक्नोलॉजी ट्रांसफर (एफआईटीटी) द्वारा शीर्ष 50 टीमों को परामर्श व आईआईटी दिल्ली में एक बूट-कैंप शामिल किया जाएगा। साथ ही आईआईटी दिल्ली का भागीदारी प्रमाण पत्र, और डिजाइन थिंकिंग, एसटीईएम, इनोवेशन, लीडरशिप आदि में ऑनलाइन पाठ्यक्रमों के लिए 10 लाख रुपये तक के वाउचर आदि शामिल किए जाएंगे।

 (आईएएनएस)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.



Source link

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!